Sanmarg Hindi Daily

सन्मार्ग - दैनिक पाठक संख्या 15 लाख से अधिक। जन्म वाराणसी में हुआ और उसके बाद पूरे पूर्वी भारत में लोगों को अपनी मातृभाषा-राजभाषा हिन्दी में हर समाचार पहुंचाने का बीड़ा उठाया। 1945 से शुरू होकर स्वतंत्रता आंदोलन में आहुति डालते हुए पूर्वी भारत का सर्वाधिक प्रसारित हिन्दी समाचार पत्र बना। वर्तमान में भी पाठकों में इतना लोकप्रिय की खुद को दूसरे नंबर पर बताने वाले समाचार पत्रों के दस गुना से भी अधिक प्रसार संख्या है।